117 करोड़ संपत्ति की मालकिन जयललिता

download (1)चेन्नई. आय से अधिक संपत्ति मामले में कर्नाटक हाईकोर्ट से क्लीन चिट मिलने के बाद तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता ने फिर अपनी संपत्ति की घोषणा की है। एक शपथ पत्र में उन्होंने अपनी कुल संपत्ति 117.13 करोड़ रुपए बताई है। जयललिता को सितंबर में सजा होने के बाद सीएम पद से इस्तीफा देना पड़ा था। अब वह विधानसभा उपचुनाव लड़ रही हैं, इसके लिए दाखिल नामांकन में कुल संपत्ति का ब्यौरा दिया गया है।
14.5 एकड़ जमीन की मालकिन हैं जयललिता
इलेक्शन कमीशन को सौंपे घोषणा पत्र में एआईएडीएमके चीफ ने बताया कि उनके पास 45.04 करोड़ की चल और 72.09 करोड़ रुपए की अचल संपत्ति है। उन्होंने 9.80 करोड़ रुपए बैंक में जमा करा रखे हैं और पांच कंपनियों में 31.68 करोड़ रुपए का निवेश किया है। पोज गार्डन स्थित उनके मकान की कीमत 44 करोड़ रुपए बताई गई है। इसके अलावा उनके पास चेन्नई और हैदराबाद समेत कुल 4 शहरों में कमर्शियल बिल्डिंग हैं। साथ ही तेलंगाना जिले के रंगा रेड्डी जिले में 14.5 एकड़ जमीन है, जिसकी कीमत लगभग 14.44 करोड़ रुपए आंकी गई है। जयललिता के पास नौ वाहन हैं जिनकी कुल कीमत 42.25 लाख रुपए है। आय से अधिक संपत्ति मामले में पुलिस से उनके पास से 21.28 KG सोना बरामद किया था, जो फिलहाल कर्नाटक सरकार के कब्जे है लिहाजा उसकी कीमत नहीं जोड़ी गई है।
जानें, आय से अधिक संपत्ति का मामला
68 करोड़ रुपए की आय से अधिक की संपत्ति अर्जित करने के 19 साल पुराने मामले में प्रिवेंशन ऑफ करप्शन एक्ट यानी पीसीए के तहत पिछले साल 27 सितंबर को विशेष अदालत ने जयललिता, शशिकला, जे. एलव अरासी और व्ही. सुधागरन को दोषी करार देते हुए सजा सुना दी थी। इस वजह से जयललिता पर कोई सरकारी पद लेने, छह साल तक चुनाव लड़ने की पाबंदी लग गई थी। नतीजतन उन्‍हें सीएम की कुर्सी छोड़नी पड़ी थी। आरोप था कि वर्ष 1991 से 96 के दौरान जब वह पहली बार तमिलनाडू की मुख्यमंत्री रही थीं तब उन्होंने आय से अधिक की 68 करोड़ रुपए की संपत्ति बनाई थी।