व्यक्तिगत ऋण योजना को दे सवोच्चय प्राथमिकता निगम आयुक्त नें राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन योजना पर की समीक्षा

व्यक्तिगत ऋण योजना को दे सवोच्चय प्राथमिकता
निगम आयुक्त नें राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन योजना पर की समीक्षा
जोधपुर, 31 अगस्त।
राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के तहत स्वरोजगार घटक की प्रगतत को लेकर निगम सभागार में बैंकर्स सदस्यों की एक बैठक आयोजित की गई। निगम आयुक्त हरिसिंह राठौड की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में सामने आया कि व्यक्तिगत ऋण के 649 आवेदन स्वीकृत कर निगम की ओर से बैंक को भिजवाए गए थे लेकिन उनमें से महज 11 आवेदकों के ही ऋण स्वीकृत किए गए साथ ही उनमे से भी महज अब तक 2 आवेदकों को ऋण दिए गए है। इस पर आयुक्त हरिसिंह राठौड ने बैंक अधिकारियों को निर्देश दिए कि यह योजना प्रधानमंत्री ओर मुख्यमंत्री की सर्वोच्चय प्राथमिकता में से है और इसलिए इस कार्य को सर्वोच्चय प्राथमिकता पर लेते हुए निगम की ओर से भिजवाए गए सभी आवेदकों के ऋण स्वीकृत कर उन्हे ऋण वितरित किए जाए। आयुक्त नें कहा कि इस संबंध में 21 सितम्बर को आगामी बैठक आयोजित की गई है जिसमें इसकी प्रगति रिपोर्ट पर पुन समीक्षा की जाएगी। बैठक में निगम उपायुक्त नरेन्द्रसिंह चौहान, अधीक्षण अभियंता सुमनेश माथुर, यूकों बैंक, एसबीआई बैंक, ओबीसी बैंक, केनरा बैंक, इंण्डियन ओवर सीज बैंक, विजया बैंक, सिडिकेंट बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और स्टेट बैंक ऑफ पटियाला के बैंक अधिकारी उपस्थित थें।
निगम साधारण सभा की बैठक 9 सितम्बर को
जोधपुर, 31 अगस्त।
न्गरनिगम की साधारण सभा की बैठक 9 सितम्बर को महापौर घनश्याम ओझा की अध्यक्षता में अध्यक्षता में आयोजित की जाएगी। आयुक्त हरिसिंह राठौड ने बताया कि निगम भवन के सभा कक्ष में दोपहर 11 बजे आयोजित होने वाली इस बैठक में समस्त वार्डो की सफाई, ड्रेनेज, सडक, नाली व विद्युत समस्या व अन्य समस्याओं पर विचार किया जाएगा साथ ही एकल खिडकी पर 500 वर्ग मीटर क्षैत्रफल तक के आवासीय भूखंड एवं टाईप डिजाईन के वाणिज्यक भूखंड की निर्माण स्वीकृति एकल खिडकी पर देने की व्यवस्था का अनुमोदन, जोधपुर नगरनिगम, भवन विनिमय, 2015 पर विचार विमर्श, 150 वर्गगज के भूखंडों में पार्किग उपलब्धता की शर्त समाप्त करने पर विचार और सफाई कार्मिकों की भर्ती मे अनुभव प्रमाण पत्र के सबंधं में विचार विमर्श किया जाएगा।