रोहट के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का निरीक्षण

?

पाली, 13 जून/ जिला कलेक्टर कुमारपाल गौतम ने रोहट के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में अव्यवस्थाओं एवं ओपीडी के दौरान चिकित्सकांे की अनुपस्थिति को असन्तोषजनक बताते हुए सीएमएचओ को लापरवाह चिकित्सकों एवं नर्सिग स्टाॅफ के खिलाफ आवश्यक कार्यवाही करते हुए चार्जशीट जारी करने के निर्देश दिये।

जिला कलेक्टर शनिवार प्रातः चिकित्सालय का औचक निरीक्षण करने रोहट पहुंचे। उन्होंने चिकित्सालय के उपस्थिति रजिस्टर की जांच कर चिकित्सकों के बिना सक्षम स्वीकृति अनुपस्थित रहने को गंभीर लापरवाही मानते हुए सीएमएचओ को इसकी जांच कर प्रभारी चिकित्सक व अन्य कार्मिकों के खिलाफ नोटिस जारी कर कार्यवाही करने के निर्देश दिये। इस दौरान मरीजों के परिजनों एवं ग्रामवासियों द्वारा चिकित्सालय मंें रात्रि के दौरान चिकित्सकों के मुख्यालय पर नहीं ठहरने तथा आवश्यक चिकित्सा सुविधा उपलब्ध नहीं होने, चिकित्सालय में भर्ती प्रसुताआंे को सेनेट्री पेड उपलब्ध नहीं करवाने, चिकित्सालय में जारी टेण्डर की प्रक्रिया में अनियमितताएं होने आदि की शिकायतों पर सीएमएचओ को तुरन्त जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। चिकित्सालय में बार-बार बिजली कटौती पर मरीजों की असुविधाओं को देखते हुए जिला कलेक्टर ने अनटाईड फण्ड से जनरेटर खरीदने के निर्देश दिये। उन्होंने चिकित्सालय का निरीक्षण कर साफ-सफाई एवं पेयजल व्यवस्था को सुधारने के निर्देश दिये।

नरेगा के कार्यो का किया निरीक्षण –
जिला कलेक्टर ने सिणगारी गांव के तालाब पर महात्मा गांधी नरेगा के तहत चल रहे कार्य का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। गांव में नरेगा के तहत तालाब की खुदाई के कार्य में लापरवाही पर उन्होंने विकास अधिकारी को ग्राम सेवक, मेट व जेटीए के खिलाफ जांच कर रिपोर्ट करने के निर्देश दिये। इस दौरान ग्रामीणों ने गांव में पेयजल की समस्या एवं जीएलआर में नियमित रूप से पेयजल सप्लाई नहीं की शिकायत पर जिला कलेक्टर ने पीएचईडी के अधिकारियों को पेयजल आपूर्ति के निर्देश दिये।
निरीक्षण के दौरान उपखण्ड अधिकारी जब्बरसिंह चारण, विकास अधिकारी राकेश जैन, सीएमएचओ डाॅ.एस.एस.शेखावत, एसई पीडब्लूडी पीएम जैन, एसई पीएचईडी आईसी जैन, अधिशाषी अभियन्ता पीएचईडी राजेश अग्रवाल आदि मौजूद रहे।