बच्चों में सांस्कृतिक विरासत के प्रति जागरूकता ला रहा सिटी पैलेस का ‘‘सांस्कृतिक विरासत प्रषिक्षण षिविर‘‘ सिटी पैलेस में सफलतापूर्वक हो रहा है आयोजित

DSC_0813जयपुर, 10 जूनः सिटी पैलेस में चल रहे ‘‘सांस्कृतिक विरासत प्रषिक्षण षिविर‘‘ बच्चों में सांस्कृतिक विरासत के प्रति जागरूकता ला रहा है। एक माह के इस निःषुल्क षिविर में लगभग 250 बच्चें और यहां तक कि उनके परिवार के सदस्य भी बढ-चढ कर भाग ले रहें है।
ऽ षिविर का 18 जून से 20 जून को होगा समापन समारोह का आयोजन

श्री रामदेव ने आगे बताया कि इस वर्ष षिविर का समापन समारोह तीन दिवसीय होगा। ‘विरासत परिचय उत्सव‘ के नाम से होने वाला यह समारोह 18 जून से 20 जून तक आयोजित किया जायेगा। इससे षिविर में प्रषिक्षित प्रतिभागी प्रस्तुती देने के अतिरिक्त अन्य सांस्कृतिक विधाओं से भी रूबरू हो सकेंगंे, उन्होंने कहा। षिविर के तहत बच्चों को सिटी पैलेस संग्रहालय एवं जयगढ़ किले का भ्रमण भी कराया जायेगा जिससे वे हमारी हेरिटेज का महत्व समझ सकें।
षिविर संयोजक ने आगे बताया कि षिविर के दौरान चलाये जा रहें पेंटिंग्स प्रषिक्षण में प्रतिभागियों ने ‘बालिका बचाओं‘ (सेव द गर्ल चाइल्ड) विषय पर आधारित पेंटिंग्स बनाकर एवं स्लोगन लिख कर कन्याओं को बचाने का संदेष दिया। सवाईमाधोपुर की विधायक राजकुमारी दिया कुमारी ‘बेटी बचाओ अभियान‘ की ब्रांड एम्बेसडर‘ है अतः बच्चों में जागरूकता लाने के उद्देष्य से पेंटिंग करने से पूर्व बच्चों को उपरोक्त विषय पर जानकारी दी गयी थी। बच्चों द्वारा बनायी गयी पेंटिंग्स को समापन समारोह में पुरस्कृत किया जायेगा, श्री रामदेव ने बताया।
षिविर के संयोजक श्री रामू रामदेव ने बताया कि षिविर में बच्चों को पारम्परिक चित्रकला का प्रषिक्षण वे स्वयं, श्यामू रामदेव और बाबूलाल मारोठिया द्वारा दिया जा रहा है। इसी प्रकार से ध्रुवपद गायन डाॅ. मधुभट्ट तैलंग द्वारा कथक एवं लोकनृत्य डाॅ. ज्योति भारती गोस्वामीे सिखा रही हैं। पंडित हरिहर भट्ट द्वारा सितार वादन एवं फोटोग्राफी का प्रषिक्षण योगेन्द्र गुप्ता तथा पुरूषोत्तम दिवाकर दे रहें है। इसके अतिरिक्त पखावज डाॅ. प्रवीण आर्य द्वारा एवं योग की बारिकीयां डाॅ संजय शर्मा सिखा रहें है। ये सभी कलाकार अपने अपने क्षेत्र में ख्याति प्राप्त है, उन्होंने बताया।
उल्लेखनिय है कि षिविर का आयोजन महाराजा सवाई मानसिंह द्वितीय संग्रहालय, रंगरीत आॅर्ट स्कूल एवं सरस्वती कला केन्द्र के संयुक्त तत्वावधान में किया जा रहा है।