प्रेमविहार को स्मार्ट कॉलोनी किया घोषित

प्रेमविहार को स्मार्ट कॉलोनी किया घोषित
जोधपुर 14 अगस्त।
जोधपुर शहर के चौपासनी स्कूल के सामने स्थित प्रेम विहार कॉलोनी को स्वतं़त्रता दिवस के अवसर पर आदर्श मौहल्ला योजना के तहत स्मार्ट कॉलोनी घोषित किया गया। स्वतंत्रता दिवस पर प्रेमविहार कॉलोनी के उद्यान में आयेाजित कार्यक्रम में प्रभारी मंत्री गजेन्द्रसिंह खींवसर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे वही महापौर घनश्याम ओझा नें कार्यक्रम की अध्यक्षता की। कार्यक्रम में सांसद गजेन्द्रसिंह शेखावत, विधायक सूर्यकांता व्यास, कैलाश भंसाली, जिला कलेक्टर प्रीतम बी यशवंत, जेडीए आयुक्त जोगाराम, निगम आयुक्त हरिसिंह राठौड विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। प्रभारी मंत्री गजेन्द्रसिंह खींवसर नें प्रेम विवार कॉलोनी को स्मार्ट कॉलोनी घोषित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मंशा है कि पूरा देश महात्मा गांधी के सिद्वान्तों पर चलते हुए स्वच्छ राष्ट्र बने और इसके लिए उन्होेनें कई कदम उठाए है। खींवसर ने कहा कि राज्य सरकार भी स्वच्छता अभियान को प्रमुखता से ले रही है। उन्होनें कहा कि प्रेम विहार के निवासियों ने जिस तरह से स्वच्छता को लेकर जो मिसाल पेश की है वह अनुकरणीय है और इससे शहर की अन्य कॉलोनियों को भी प्रेरणा लेनी चाहिए। महापौर घनश्याम ओझा नें प्रेम विहार कॉलोनी वासियों को स्मार्ट कॉलोनी घोषित होने की बधाई देते हुए कहा कि निगम का प्रयास है कि पायलट प्रोजेक्ट के तहत कुछ कॉलोनियों का चयन कर उन्हे एक आदर्श के रूप मे स्थापित करे और प्रेम विहार हमारी ऐसी ही एक आदर्श कॉलोनी बनकर उभरी है जिसके लिए पूरी कॉलोनीवासी बधाई के पात्र है। ओझा ने कॉलोनी वासियों को विश्वास दिलाया कि कॉलोनीवासियों की जो भी समस्याएं होगी उन समस्याओं का तुंरत समाधान किया जाएगा। निगम आयुक्त हरिसिंह राठौड नें सभी अतिथियों का आभार जताया। कार्यक्रम में ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ लोकल सेल्फ गवर्मेंट के क्षेत्रीय निदेशक सुमित सिंह, प्रेम विहार कालॉनी के अध्यक्ष सुरेश छंगाणी, उपाध्यक्ष रोशन बोडा और सचिव देवानंद सहित अन्य कॅालोनीवासी उपस्थित रहे।
आदर्श मौहल्ला के यह होगें मापदंड
आदर्श मौहल्ला योजना के तहत एक आदर्श वार्ड में एक मौहल्ला सभा का गठन किया जाएगा जिसमें सभी रजिस्टर्ड मतदाता सदस्य होगें और इस समिति की ओर से मौहल्ले की प्रमुख समस्या की पहचान कर उनका निराकरण करने का कार्य किया जाएगा। वही मौहल्ले मे मौहल्ला निगरानी समिति का गठन होगा जिसमें मौहल्ला समिति की ओर से चयनित व्यक्ति सदस्य होगे। यह समिति मौहल्ला सभा की ओर से तैयार किए गए बीट प्लान को लागू करने और निगम कर्मचारियों की दैनिक गतिविधियों का पर्यवेक्षण करने का कार्य करेगें।
निगम ने पायलट प्रोजेक्ट के तहत चार कॉलोनी की चिन्हित
जोधपुर नगरनिगम ने शहर को साफ एवं स्वच्छ बनाने के लिए एक जनभागीदारी आधारित प्रायोगिक परियोजना शहर के चार मौहल्लों में लागू करने का निर्णय लिया है। इसके तहत प्रेमविहार कॉलोनी, शिक्षक कॉलोनी, आशापुरा मंदिर और सरप्रताप कॉलोनी का पायलट प्रोजैक्ट के तहत चिन्हित किया गया हैै।