अमेरिका ने आज तक जारी नहीं किया ओसामा का डेथ सर्टिफिकेट

ओसामा बिन लादेन

ओसामा बिन लादेन

विकिलीक्स ने सऊदी अरब और अमेरिका के  लगभग 60,000 से अधिक कूटनीतिक सूचनाओं से खुलासा किया है अमेरिका ने आतंकी ओसामा बिन लादेन का मृत्यु प्रमाण पत्र  कभी जारी ही नहीं किया. सऊदी अरब स्थित अमेरिकी दूतावास ने ओसामा बिन लादेन के बेटे को मृत्यु प्रमाण-पत्र देने से इनकार कर दिया था.

ब्रिटेन स्थित आईबीटाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, शुक्रवार को सार्वजनिक की गई इस सूचना के अनुसार, अलकायदा के पूर्व प्रमुख और 9/11 के मास्टरमाइंड ओसामा बिन लादेन के पुत्र ने सऊदी अरब स्थित अमेरिकी दूतावास को पत्र लिखकर अपने पिता का मृत्यु प्रमाण-पत्र मांगा था. लेकिन उसके अनुरोध को ठुकरा दिया गया था. यह खुलासा, जुलियन असांज के विकिलीक्स द्वारा हाल में प्रकाशित दस्तावेजों से हुआ है. ओसामा के बेटे अब्दुल्ला बिन लादेन के अनुरोध के जवाब में अमेरिकी दूतावास ने कहा था, ‘यह सैन्य अभियानों में व्यक्तियों के नियमित तौर पर मारे जाने की परंपरा के समान है.’

यह पत्र अमेरिकी कार्रवाई में लादेन के मारे जाने के चार महीने बाद नौ सितंबर, 2011 को लिखा गया था. लादेन ने पाकिस्तान के एबटाबाद में एक इमारत में पनाह ले रखी थी. अमेरिकी अधिकारियों ने कहा कि बिन लादेन को समुद्र में दफना दिया गया था. रियाद स्थित अमेरिकी दूतावास के एक राजनयिक, ग्लेन कीसर की तरफ से लिखे गए पत्र के जवाब में कहा गया है, ‘ओसामा बिन लादेन के मृत्यु को सत्यापित करने की एक अन्य प्रक्रिया है.’ कीसर ने ‘नोले प्रोसेक्यू’ का जिक्र किया. इस लैटिन शब्द का अर्थ होता है कि हम अब मुकदमा नहीं चलाएंगे.

अदालत ने यह आदेश जारी किया था, जिसका अर्थ यह होता है कि बिन लादेन के खिलाफ आपराधिक मामले समाप्त कर दिए गए हैं और इस तरह यह मृत्यु के प्रमाण के रूप में काम कर सकता है. विकिलीक्स ने शुक्रवार को अपने संस्थापक जुलियन असांज के लंदन स्थित इक्वोडोर के दूतावास में शरण लेने की तीसरी वर्षगांठ मनाया गया.

Reference link:http://aajtak.intoday.in